Corona Virus News | India Mai Mila Corona Ka Naya Variant

All India News 24 – Corona Virus News | India Mai Mila Corona Ka Naya Variant Kya India Hoga Corona Ki Tisri Lahar Sai Parishan नमस्कार दोस्तों। भारत में कोरोना के कंट्रोल होते हालात के बीच डराने वाली ख़बर आई है। पुणे की नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी ने कोरोनावायरस की जिनोम सीक्वेंसिंग में नए वैरिएंट का पता लगाया है। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक , यह वैरिएंट ब्रिटेन और ब्राज़ील से भारत आए लोगों में पाया गया है। इंस्टीट्यूट ने इसे B.1.1.28.2 नाम दिया है। यह भारत में पाए गए डेल्टा वैरिएंट की ही तरह गंभीर है। इससे संक्रमित लोगों में कोरोना के गंभीर लक्षण दिख सकते हैं। वैरिएंट की स्टडी के बाद पाया गया कि यह लोगों को गंभीर रूप से बीमार कर सकता है। इस वैरिएंट के खिलाफ वैक्सीन असरदार है या नहीं , इसके लिए स्क्रीनिंग की ज़रूरत बताई गई है। NIV की यह स्टडी bioRxiv में ऑनलाइन पब्लिश हुई है। हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि B.1.1.28.2 वैरिएंट से संक्रमित होने पर व्यक्ति का वज़न कम होने लगता है। Corona Virus News | India Mai Mila Corona Ka Naya Variant इसके संक्रमण के तेज़ी से फैलने पर मरीज़ के फेफड़े डैमेज हो जाते हैं। यह वैरिएंट फेफड़ों में घाव और उनमें भारी नुकसान की वजह बन सकता है। डेल्टा या B.1.617 वैरिएंट , जिसे डबल म्यूटेंट स्ट्रेन भी कहा जाता है , महाराष्ट्र और दिल्ली में बड़े पैमाने पर मिला है। इसकी वजह से यहां आई महामारी की दूसरी लहर ने बुरी तरह प्रभावित किया है। भारत में हाहाकार मचाने वाले डेल्टा वैरिएंट की वजह से लोगों को तरह – तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इस वैरिएंट की वजह से कोरोना के मरीजों में ऐसे लक्षण भी दिखाई दे रहे हैं , जो आमतौर पर उनमें नहीं दिखाई देते। देश के डॉक्टर्स ने पाया है कि सुनने की क्षमता में कमी , गैस से जुड़ी समस्या , ब्लड क्लॉड और गैंगरीन जैसे लक्षण भी डेल्टा वैरिएंट की ही देन हैं। कोरोना का ये नया रूप क्या नई मुसीबत बनकर भारत में तीसरी लहर लाने के लिए ज़िम्मेदार होगा या हम इसपर काबू कर पाएंगे , ये समय ही बताएगा ! फिलहाल , आपके इसपर क्या विचार हैं ? कॉमेंट करके ज़रूर बताइये धन्यवाद।
ये भी पढ़ईये: Government Job in India | Government Job Alert
corona patient listhttps://www.worldometers.info/coronavirus/country/india/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *