क्या अभी और बढ़ेगा लॉकडाउन ?

  • तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने लॉकडाउन 3 जून तक बढ़ाने का सुझाव दिया
  • उत्तरप्रदेश सरकार ने भी सोमवार को संकेत दिए कि लॉकडाउन 14 अप्रैल को खत्म नहीं होगा

नई दिल्‍ली। पूरे देश में 21 दिन के लॉकडाउन है। देश में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन को जारी रखने की मांग जोर पकड़ रही है। सरकारी सूत्रों के अनुसार को मंगलवार को बताया कि केंद्र सरकार कई राज्य सरकारों और विशेषज्ञों की अपील के बाद इस पहलू पर विचार कर रही है।

इससे पहले तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने भी लॉकडाउन को 3 जून तक बढ़ाने का सुझाव दिया था, जबकि वे खुद एक हफ्ते पहले अपने राज्य को कोरोना फ्री घोषित करने की तैयारी कर रहे थे। उत्तरप्रदेश सरकार ने भी संकेत दिए हैं कि वह लॉकडाउन को बढ़ाएगी। राज्य के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने कहा था कि हम 14 अप्रैल को लॉकडाउन खत्म कर देंगे, ऐसा कह पाना अभी असंभव है।

कई राज्‍यों की ओर से केंद्र सरकार से इस बारे में फैसला लेने की अपील की गई है। कुछ विशेषज्ञों ने भी यही विचार रखे हैं। फिलहाल केंद्र सरकार इन सुझावों पर विचार कर रही है। दूसरी तरफ, सरकार के पोर्टल MyGovIndia के ट्विटर हैंडल से मंगलवार दोपहर लॉकडाउन हटाने की खबरों को ‘निराधार’ बताया गया। हालांकि कुछ ही मिनटों में ट्वीट डिलीट कर दिया गया। ऐसे में सवाल उठ रहे हैं कि क्‍या ट्वीट डिलीट करना इस बात का संकेत है कि सरकार लॉकडाउन बढ़ाने पर गंभीरता से सोच रही है।

सरकारी हैंडल ने पहले लॉकडाउन बढ़ाने की खबरों को बताया ‘आधारहीन’, फिर डिलीट किया ट्वीट

MyGovIndia ने कैबिनेट सचिव राजीव गौबा के हवाले से लिखा था कि 21 दिन के लॉकडाउन को बढ़ाने की कोई योजना नहीं है। ट्वीट में इसे बकायदा फैक्‍ट चेक कहा गया। ट्वीट था, ‘लॉकडाउन के एक्‍सटेंशन से जुड़े दावे निराधार हैं और सरकार ने अभी तक इस बारे में कोई नोटिफिकेशन जारी नहीं किया है। ऐसी अफवाहों के शिकार ना बनें।’ कुछ मिनटों में ऐसा क्‍या हुआ कि यह फैक्‍ट चेक गलत निकल गया? सरकारी हैंडल से इस बारे में खबर लिखे जाने तक कोई सफाई नहीं दी गई है।

coronavirus : कोरोना वायरस की टेस्टिंग की क्षमता बढ़ाकर की जाएगी दोगुनी

क्‍यों लॉकडाउन बढ़ाने की हो रही मांग?

कई राज्‍य लॉकडाउन एक्‍सटेंशन के पक्ष में हैं। तेलंगाना के सीएम केसीआर ने साफ कहा है कि देश के खराब हेल्‍थ इन्फ्रास्ट्रक्चर को देखते हुए वायरस को फैलने से रोक पाना मुश्किल होगा। उन्‍होंने कहा, ‘मैं 15 अप्रैल के बाद भी देश के लॉकडाउन का पक्षधर हूं क्‍योंकि हम आर्थिक समस्‍या से तो निकल सकते हैं मगर जिंदगियां नहीं बचा सकते। हम अपने लोगों की जिंदगियां वापस नहीं ला पाएंगे।’ KCR ने तो यहां तक कहा कि लॉकडाउन ही कोरोना वायरस के खिलाफ देश का इकलौता हथियार है।

एम्स के डॉक्टर रणदीप गुलेरिया के एक बयान के बाद सोमवार से इस बात की चर्चा गर्म है कि क्या कोरोना वायरस भारत में स्टेज 3 में प्रवेश कर गया है। इस विडियो रिपोर्ट में जानिए पूरा सच।

KCR ने सबसे पहले उठाई आवाज

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने लॉकडाउन को 3 जून तक बढ़ाने का सुझाव रखा है। उन्‍होंने एक BCG रिपोर्ट का हवाला दिया जिसमें 3 जून तक लॉकडाउन का सुझाव दिया गया था। उन्‍होंने पीएम मोदी से अपील करते हुए कहा है कि वह बेझिझक होकर लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला करें।

नायडू ने इशारों में कह दी बात

उपराष्‍ट्रपति वेंकैया नायडू ने भी इशारों में लॉकडाउन बढ़ने के संकेत दिए हैं। उन्‍होंने कहा कि लॉकडाउन से बाहर निकलने में तीसरा सप्‍ताह बेहद अहम है। उन्‍होंने कहा कि 14 अप्रैल के बाद जो भी फैसला हो, लोग उसका उसी तरह पालन करें जैसे अबतक करते आए हैं। उन्‍होंने कहा कि अर्थव्‍यवस्‍था के संकट पर किसी और दिन चिंता की जा सकती है मगर स्‍वास्‍थ्‍य पर नहीं।

कर्नाटक, महाराष्‍ट्र भी एक्‍सटेंशन के पक्ष में

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की केरल यूनिट ने पीएम मोदी को चिट्ठी लिखकर लॉकडाउन तीन सप्‍ताह के लिए बढ़ाने की मांग की है। महाराष्‍ट्र सरकार ने कहा है कि वह केंद्र से निर्देशों और WHO की एडवायजरी का इंतजार कर रहे हैं। लॉकडाउन पर फैसला 10-14 अप्रैल के बीच कर लिया जाएगा। कर्नाटक सीएम बीएस येदियुरप्‍पा ने भी कहा है कि ‘अभी जैसे हालात हैं, मुझे नहीं लगता लॉकडाउन 14 अप्रैल को खत्‍म होगा। यह तभी खत्‍म होगा जब लोग पूरी तरह कोऑपरेट करेंगे और घरों से नहीं निकलेंगे।’ उत्‍तर प्रदेश में भी लॉकडाउन हटाने की संभावना कम ही है।

जरूरत पड़ी तो बढ़ेगा लॉकडाउन : शिवराज सिंह

मध्‍य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह ने भी लॉकडाउन जारी रखने का इशारा किया है। उन्‍होंने मंगलवार को कहा, “लोगों का जीवन ज्‍यादा आवश्‍यक है। अर्थव्‍यवस्‍था फिर से खड़ी की जा सकती है लेकिन अगर लोग मर जाएंगे तो हम उन्‍हें कैसे वापस लाएंगे? इसीलिए अगर जरूरत पड़ती है तो हम लॉकडाउन को बढ़ाएंगे। इस बारे में हालात के आधार पर निर्णय लिया जाएगा।’ मध्‍य प्रदेश में तेजी से कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं।

तमिलनाडु में किसानों की मदद के लिए जिलावार हेल्पलाइन नंबर शुरू

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ई पलानिस्वामी ने किसानों की मदद के लिए जिलावार हेल्पलाइन नंबर शुरू किया है। इस पर उनकी उपज बेचने, उसका परिवहन और भंडारण करने की दिक्कतें दूर की जाएंगी।